SEO Kya Hai? SEO Ka Full Form? SEO In Hindi पूरी जानकारी

0
935
seo kya hai

सबसे पेहेले तो आप सभी का स्वागत है इस blog में। याहापे हम internet से जुड़ी बोहुत सारी जानकारी देते रहते है। तो दोस्तों आज की इस post में हम जानेंगे seo kya hai? Seo किसे कहते है? ये कितने प्रकार के है? और ये किसके काम आता है। तो चलिये आगे बढ़ ते है।

दोस्तों अगर आप एक youtuber या blogger है तो आप को ज़रूर जानना चाहिए seo kya hai। seo यानि search engine optimization के बारेंमे आप को आछे से पता होना चाहिए। इसके बिना आप blogger नेही बन सकते। ये बोहुत ही ज़रूरी बिसय है।

SEO kya hai?

SEO Full Form–: Search Engine Optimization

Search Engine Optimaization (SEO) YouTube और Blogging के लिए इस्तेमाल होती है। इसमे आप को search engine जेसेकी Google, Yahoo और Bing का search algorithm को समझ ना पड़ता है। उसके हिसाब से आप को content बनाना पड़ता है। तभी जाके आप का content Google search result में आता है।

search engine का एक rule होता है जिसको हम search algorithm केहेते है। seo के मदत से हम हमारा जो भी blog या YouTube video है उसको हम किसिभी search engine result में no1 rank पर ला सकते है। ताकि हमारा blog website search engine result में सबसे ऊपर आ सके और अधिक से अधिक traffic हमको मिल सके।

Example-: मान लीजिये आप ने Google पे कुछ search किया तो उसके related आप को बोहुत सारी result मिलेगा। तो येसे मे जो blog या website पेहेले page पे पेहेले no पे आया होगा तो उसमे काफी बढ़िया seo किया गेया होगा। इसीलिए वो top पे rank कर रहा होगा। क्यूँ की आप जो भी Google में search कर ते है उसके related बोहुत सारी blog होते है जो की वो topic के ऊपर लिखे होंगे। अब येसे में जिसके blog का seo सबसे आछा होगा वो Google पे top पे rank करेगा।

अगर आप एक YouTube creator है और YouTube पे videos upload करते है, तो याहपे भी आप को seo का ध्यान रखना होगा। ताकि आप का video YouTube search मे सबसे पेहेले आए।

Also Read-:

SEO Kya Hai aur क्यूँ चाहिए?

तो दोस्तों मे ऊमीद करता हूँ की seo kya hai आप को समझ में आ गेया होगा। तो चलिये अब मे आप को बताता हूँ की seo क्यूँ चाहिए?

देखिये दोस्तों, अगर मे बात करू आज से 6, 7 शाल पेहेले की तो उस समय में ज्यादा कोई blogging या YouTube पे काम नेही करता था। तो competition भी बोहुत ही low था। उस समय में ज्यादा blog, websites भी नेही थे। जिसके बजेसे अगर आप कुछ भी content लिख ते थे तो वो Google में आराम से rank हो जाता था और seo की उतनी ज़रूरत नेही पड़ती थी।

लेकिन आज के समय में अगर आप blog लिखते है content बनाते है, तो वो बिना seo के Google search result में नेही आयेगा। क्यूँ की आज के time पे बोहुत सारी blog websites Google पर मोजूद है। अभी अगर आप कुछ भी search करेंगे तो आप के सामने लाखो करोड़ो search result आ जाएंगी।

तो अगर आप को इन लाखो करोड़ो website से आगे आना है तो आप को seo की पूरी जानकारी होना चाहिए। आप जिस भी content पे blog लिख ते है उसके related आछेसे keyword research करना पड़ता है। इसके द्वारा आप को ये पता चलता है की किस keyword पे कितना searches और कितना competition है। अगर आप low competition keyword पे blog लिखेंगे तो आप का blog Google search result मे rank करने का chances ज्यादा हो जाता है। आज के समय में इतना competition बढ़ गेया है की अगर आप किसिभी random keyword पे blog लिखेंगे तो वो Google मे कभी भी rank नेही करेगा।

तो दोस्तों में ऊमीद करता हूँ की अब तक आप को पता चल गेया होगा की seo kya hai और seo क्यूँ चाहिए। तो चलिये अब जान लेते है की seo कितने प्रकार के है।

SEO कितने प्रकार के है – Types of SEO in Hindi

देखिये seo मुख्यतः 4 प्रकार के है, जो की है,

  1. White hat seo
  2. Black hat seo
  3. Grey hat seo
  4. Negative seo

अब आप ये सोच रहे होंगे की इन चारो में से हमे कौनसा seo इस्तेमाल करना चाहिए आपने blog में। तो देखिये सबका मकसद एक ही है की blog को Google में rank करना बस तरीका अलग अलग है। तो चलिये अब बात कर लेते है इन चारों seo के बारेमें।

White Hat SEO Kya Hai?

Whaite hat seo (Ethical seo) ये सबसे सही तरीका है seo का। जो की किसिभी नियम को बिना तोड़े आप के blog को rank किया जा सकता है। Google का कुछ algorithm बा नियम है। उस नियम के हिसाब से हमको blog बनाना पड़ता है। अगर कोई उस नियम को थोड़ ता है तो Google उसको penalty देती है।

जेसेकी, blog को delete करना, search result में blog को block करना, rank में गिराबट करना, account को disable करना इत्यादि।

दोस्तों इस seo में जो ranking मिलता है वो इतना जल्दी गिरता नेही है। अगर ये seo आप आपने blog में इस्तेमाल करते हो तो result आने में थोड़ा समय लग सकता है, लेकिन ये एक best और सही तरीका है seo करने का।

दोस्तों आज जीतने भी popular blog है, वो सारे white hat seo का इस्तेमाल करते है। मे भी आप ने blog में येही seo करता हूँ और आप को भी ये recommend करता हूँ की आप भी white hat seo करें।

white hat seo kya hai

White Hat SEO Example

  • Search engine algorithms के हिसाब से blog बनाना या post लिखना।
  • अपने topic के ऊपर focus करके आछा original content लिखना।
  • आप ने audience को सही और सटीक जानकारी देना।
  • किसि भी प्रकार की spamming ना करना।

Black Hat SEO Kya Hai

Black hat seo (Unethical seo) ये बिलकुल उल्टा है। ये एक shortcut way है blog को rank करने का। या यूं कहिए ये search engine को उलू बना कर blog को rank कर देता है। ये search engine का algorithm को बिलकुल follow नेही करता है। ये किसि भी प्रकार की rules guidelines को follow नेही करता है। अगर आप black hat seo का इस्तेमाल करते हैं तो, आप का जो blog है वो बोहुत ही जल्दी search engine में rank कर जाता है White hat seo के मुक़ाबले। और आप के blog में काफी आछा traffic आती है।

लेकिन, इसका मतलब ये नेही है की आप black hat seo का इस्तेमाल करें। ये short term के लिए आछा हो हो सकता है लेकिन long term के लिए बिलकुल आछा नेही है।

अगर आप black hat का इस्तेमाल करके आपनि blog को rank कर रहे हो तो, अगर Google ने ये detect करलिया तो आप का blog permanently banned या blacklist हो सकती है और आपकी सारी महनत पनि में जा सकती है।

इसमे कोई सक नेही की अगर आप black hat का इस्तेमाल करते हो तो आप कम समय में rank कर जाओगे। लेकिन आप उतनी ही जल्दी नीचे भी आ सकते हो। तो दोस्तो black hat seo को बिलकुल भी इस्तेमाल ना करें।

Black Hat SEO Example

  • Shortcut तरीके से blog को rank करना।
  • Plagiarism content बनाना।
  • Spamming blog से backlink लेना।
  • Blog में focus keyword को ज्यादा बार repeat करना।
  • Blog पे paid traffic drive करना।

Grey Hat SEO Kya Hai

Grey hat seo, black hat और white hat seo के बीच में अति है। ये सारी rules guidelines को follow तो करता है, लेकिन कहिना ना कहीं ये rules को चकमा दे कर blog को rank कर देता है। जेसेकी users को गुमराहा करना। अगर आप grey hat का इस्तेमाल कर रहे है तो, अगर इसका percentage ज्यादा हो गेया तो ये black hat में convert हो जाएगा।

इस seo से भी blog को नुकसान होती है। इसीलिए दोस्तों आप इसका भी इस्तेमाल ना करें। और ईमानदारी से काम करे ताकि कोई भी risk ना हो।

Grey Hat SEO Example

  • Click bait content बनाना।
  • आप ने blog में spamming link share करना।
  • User’s को misleading content देना।
  • फालतू का link share करना जिसमे users का फाइदा ना हो।

Negative SEO Kya Hai

Negative seo बिलकुल अलग seo है। ये किसी और blog के ऊपर इस्तेमाल किया जाता है। मतलब आप की competitor’s की blog को ranking में down करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

इसमे black hat और grey hat seo का इस्तेमाल करके, competitor website को down किया जाता है। मतलब जेसेकी hacking करना। अगर आप के blog में कोई negative seo apply करता है तो इससे बचने का भी रास्ता है। इसके बारेमें मे और एक नेई article में detail में बताऊंगा।

Negative Hat SEO Example

  • दूसरे blog से content चुराना।
  • दूसरे blog के बारेंमे उल्टा सीधा comment या review देना।
  • किसी और के blog को hacking करना।
  • दूसरे की fake social profile बनाना।

तो दोस्तों ये थे कुछ चार SEO technique जिसको हम इस्तेमाल कर पाएंगे आप ने blog में। लेकिन white hat seo सबसे best और सही तरीका है।

SEO Kaise Kare?

तो दोस्तों जेसाकी मेने आप को बताया की seo kya hai। तो चलिये अब जान लेते है की seo कैसे करें। तो यहाँ पे मे आप को थोड़ा सा overview दे दूंगा। और दूसरे एक post में seo कैसे करना है पूरी step by step के साथ बताऊंगा।

एक blog website में seo करने के लिए हम 4 तरहा की technique इस्तेमाल करते है जोकि है,

  1. On Page SEO
  2. Off Page SEO
  3. Technical SEO
  4. Local SEO

Conclusion

दोस्तों seo kya hai सबकुछ मेने बिस्तर से बता दिया। मे ऊमीद करता हूँ की आप को सबकुछ समझ में आ गेया होगा। और हाँ हमेसा सही काम करे महनत करे smart work करे। कभी भी shortcut का इस्तेमाल ना करे। और blogging में हमेसा ईमानदारी से काम करे। किसि भी प्रकार की hacking cracking ना करे।

दोस्तों अगर ये post आप को पसंद आए तो इसे और blogger friends के साथ share ज़रूर करें। so friends मिलते है अगलि बार एक नेये article में, तबतक के लिए अलबिदा, आप का दिन सुभ हो।

धन्यबाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here